Home मनोरंजन 9 दिसम्बर को सिनेमाघरों में जगमगाएगी जैकी श्रॉफ की “लाईफ ईज गुड”...

9 दिसम्बर को सिनेमाघरों में जगमगाएगी जैकी श्रॉफ की “लाईफ ईज गुड” A film on emotional bonding “LIFE IS GOOD”

171

🔹मानवीय संवेदनाओं को भावनात्मक रूप में प्रस्तुत करती “लाईफ ईज गुड”

✒️अनिल बेदाग(विशेष प्रतिनिधी)

मुंबई(दि.2डिसेंबर):- आज सिने प्रेमियों की अमूमन यह शिकायत रहती है कि तकनीकी तामझाम के आवरण के पीछे संवेदनशील सिनेमा कहीं खो गया है। इन शिकायतकर्ताओं को तलाश रहती है एक ऐसी फिल्म की जो रूह को ठंडक दे और दिल की गहराइयों में उसका असर उतर जाए। अब निर्माता आनंद शुक्ला की फ़िल्म “लाईफ ईज गुड” के तहत उनकी यह तलाश पूरी होने जा रही है। मानवीय संवेदनाओं को भावनात्मक रुप में प्रस्तुत करती यह फिल्म नौ दिसंबर को प्रदर्शित हो रही है और फिल्म की कहानी संवेदनाओं की नींव पर रखी गयी है।

यह कहानी रामेश्वर (जैकी श्रॉफ) के इर्द-गिर्द बुनी गयी है। अधेड़ उम्र का रामेश्वर खूबसूरत पहाड़ी जगह पर एकाकी जिंदगी बीता रहा होता है। वह अपनी माँ को खूब चाहता है, पर वह तब टूट सा जाता है, जब मां का देहांत हो जाता है। रामेश्वर को अब अपनी ज़िंदगी निरर्थक लगने लगती है। अब उसके पास जीने का कोई मकसद नहीं है। जिंदगी को वह बोझ समझने लगता है और ऐसे में एक कमज़ोर लम्हें के दौरान वह आत्महत्या करने के बारे में सोचता है। इससे पहले कि वह एक जानलेवा कदम उठाए, संयोग से उसकी ज़िन्दगी में 6 वर्षीय नन्हीं मासूम लड़की मिष्टी (सानिया अंक्लेसरिया) का आगमन होता है।

मिष्टी के परिचय में आने के बाद रामेश्वर की बेनूर ज़िंदगी में निखार आ जाता है। उसकी ज़िन्दगी में खुशियों व उम्मीदों के नए रंग भर जाते हैं। ज़िंदगी को बोझ मान रहे रामेश्वर की ज़िंदगी एक मासूम बच्ची की बदौलत कैसे बदल जाती है और ज़िंदगी के प्रति उसका नजरिया कैसे बदल जाता है, यह इस फ़िल्म की कहानी का सार है।फिल्म के कहानी लेखक हैं सुजीत सेन और निर्देशक हैं अनंत नारायण महादेवन। फ़िल्म के अन्य कलाकार हैं अनन्या, रजित कपूर, स्वानंद वर्मा, अंकिता, सुनीता सेन गुप्ता, मोहन कपूर और दर्शन जरीवाला।

फ़िल्म के प्रोमो ने लोगों का दिल जीत लिया है और अब दर्शकों के दिलों पर राज करने के लिए यह फ़िल्म 9 दिसम्बर को सिनेमाघरों में आ रही है।

A film on emotional bonding “LIFE IS GOOD”

Producer Anand Shukla’s maiden venture “Life Is Good” is a film about the various colours of life. The story narrates how a perspective towards life can be changed when someone brings new hope and vision in life and adds colours to colourless life.

Rameshwar (Jackie Shroff) is one such lonely person who has lost interest in life following the death of his mother. He starts to feel that his life has no aim and meaning and on one weak moment of life he thinks of committing suicide. Before he takes this drastic step a little innocent girl Mishty (Saniya Anklesariya) enters into his life and later becomes familiar with Rameshwar. Now in the company of jovial Mishty the perspective of Rameshwar towards life starts changing and he learns the new meaning of life. How Mishty brings changes in the life of Rameshwar and how he becomes a changed person forms the crux of the story.

Sujit Sen has written this story on emotional bonding and the film is directed by Anant Narayan Mahadevan and it also stars Ananya, Rajit Kapur, Ankita, Swanand Verma, Sunita Sen Gupta, Mohan Kapoor and Darshan Jariwala and the film is all set to release on 9th December.

भीमशक्ती शिवशक्तीच्या मुद्द्यावर आता वावड्या उडवू नका!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here