Home Education चिमुर के ग्रामगीता महाविद्यालय को नॅक मूल्यांकन मे मिला बी प्लस

चिमुर के ग्रामगीता महाविद्यालय को नॅक मूल्यांकन मे मिला बी प्लस

198

✒️सुयोग सुरेश डांगे(चिमूर प्रतिनिधी)

चिमूर(दि.3मे):-गोंडवाना विश्वविद्यालय गडचिरोली संलग्नित ग्रामगीता महाविद्यालय चिमूर को बंगलोर की राष्ट्रीय मुल्यांकन व मानांकन संस्था (नॅक) समितीने हाल ही मे भेट देकर निरीक्षण किया व मूल्यांकन रपट बनाई थी. इस मूल्यांकन मे मे कॉलेज को बी प्लस का दर्जा मिला है. महाविद्यालय के शैक्षणिक , सामाजिक व विद्यार्थी केंद्रित सभी कार्यो का निरीक्षण किया था.

चिमूर स्थित ग्रामगीता महाविद्यालय द्वारा विगत पाच वर्षो मे किये कार्य तथा विभिन्न तांत्रिक मामलो व कागजात की पडताल कर विद्यमान व पूर्व छात्रो तथा पालको से चर्चा कीं थी. महाविद्यालाय के शैक्षणिक कामकाज, संशोधन व सामाजिक कार्य , पायभूत सोयीसुविधा आदी का मुल्यमापन कर अहवाल नॅक बंगलोर को भेजा था गुणवत्ता पडताल के लिये त्रिसदसीय समिती नॅकने नियुक्त की थी. जीसमे समिती अध्यक्ष के रूप मे मॅट्स विद्यापीठ,रायपुर के कुलुगुरू प्रा. डॉ. के.पी. यादव, समिती समन्वयक के रूप मे जामिया मिलीया इस्लामिया विद्यापीठ दिल्ली के प्रा. डॉ. आफताब आलम, डॉ. ए. व्ही. बलीगा कॉलेज कुमटा, उत्तर कन्नड के पूर्व प्राचार्य,प्रा. डॉ. गिरीश कुचीनाड (सदस्य) का समावेश था.समितीने दि. २७ व २८ अप्रेल २०२२ को प्रत्यक्ष भेट देकर रपट अंतिम नातिजो के लिये भेजी थी.जीसमे कॉलेज को बी प्लस श्रेणी मिली है.

समितीमार्फत होने वाले मुल्यांकन की तयारी मे महाविद्यालाय के प्राचार्य डॉ. अमीर धमानी के नेतृत्व मे महाविद्यालय नॅक समिती के समन्वयक प्रा. हुमेश्वर आनंदे अन्य शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मचारियो ने मेहनत की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here